कोरोना के संक्रमण के रोकथाम हेतु जब पूरे देश में लॉकडाउन की घोषणा हुई तो सबसे बड़ी समस्या उन लोगों के साथ उतपन्न हुई जो अपना प्रतिदिन का गुजाराभत्ता बहुत कठिनायों के साथ किया करते थे और वैसे परिवार जिनका घर रोज की दिहाड़ी पर चलता था.इन लोगों के पास सबसे बड़ी समस्या उनके खाने पीने की थी. इस समस्या को तुरंत संज्ञान में लेकर झारखंड के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी ने सभी पंचायतों में मुख्यमंत्री दीदी किचन की शुरुआत की जहां दोपहर के खाने व रात के भोजन का इंतेजाम कराया गया. इस योजना की शुरुआत 3 अप्रैल 2020 को की गई थी,जिसमे राज्य के सभी पंचायत में इस योजना को लागू किया गया ताकि कोई भी व्यक्ति भूखे पेट न सोये. इस योजना के कारण 49 दिनों में यानी की 21 मई 2020 तक कुल 21170690 लोगों को भोजन करवाया जा चुका है और इस किचन का संचालन 31 मई तक इसी प्रकार सुचारू रूप से किया जाना है.
इस योजना से राज्य के सभी जिले को फायदा मिला है और बहुत से जरूरतमंद लोगों तक मदद भी पहुंची है. मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी ने यह आंकड़े की जानकारी ट्वीट के माध्यम से साझा दी है.